भगवान एक खोज / Bhagwan Ek Khoj / In Search of God

5f1ea85529739.php

यह एक किताब है- जो भगवान है, के बारे में मौजूद है या नहीं, भगवान ने हमें क्यों बनाया, भगवान का न्याय, वह हमारे लिए दयालु है या नहीं, पाप और पुण्य कर्म क्या हैं। यह पुस्तक पूरी तरह से “ईश्वर की खोज” पर आधारित है.

  1. भगवान् कौन है?
    भगवान् कौन है, कँहा रहता है, वो कैसे इस दुनिया को चलाता है ऐसे बहुत से सवाल हमारे और
    आपके दिमाग में चलते रहते हैं भगवान जिसे हर कोई जानता तो है लेकिन उसे कभी देखा नहीं,
    इसलिए भगवान को खोजने की हमारी ललक और बढ़ जाती है, भगवान् हमारी जिज्ञासा हैं
    हम सभी अपने बचपन से ही भगवान और उनसे जुडी कथाओं के बारे में सुनते आ रहे है, उनकी
    महानता और शक्तियों के बारे में सुनते आ रहे है और उनकी प्रार्थना और भक्ति करते आ रहे हैं,
    इस संसार में सभी धर्मों के लोग अलग-अलग तरीके से अपने धर्म के अनुसार भगवान से जुड़े हुए
    हैं और सभी धर्मों के लोग अपने-अपने धर्म के अनुसार भगवान में श्रद्धा और विश्वास रखते है और
    उनकी पूजा करते हैं.
    भगवान् एक ऐसी शक्ति है जो हमेशा अपने होने का अहसास कराती रहती है उन्होंने इस दुनिया
    की रचना की है वो सर्वशक्तिशाली, सर्वज्ञानी और महान है वो कभी न मिटने वाला सत्य है।
    एक बात मैं आपको बता दूं कि जब आप अत्यधिक परेशानी या तनात से गुजर रहे होते हैं तो ऐसी
    स्थिति में भगवान् को ढूंढने की आपकी सनक और भी बढ़ जाती है और आप भगवान् के रहस्य
    को जानना चाहते हैं कि भगवान कौन है और वो किस तरह हमारे कर्मों का फल हमें देते है क्यों
    हगे इतने दुःख सहने पड़ते हैं कैसे भगवान् हमारी जिंदगी को प्रभावित करते हैं
    ऐसे ही कुछ सवाल आपको भगवान् और उसकी बनाई दुनिया के बारे में जानने के लिए ज्यादा
    प्रेरित करते है
    7
    ऐसे ही कई और सवाल हमारे दिल में आते है जैसे कि
  2. भगवान कौन हैं?
  3. क्या भगवान का सच में कोई अस्तित्व हैं?
3.6/5 - (18 votes)

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *