इश्‍क़ मुबारक / Ishq Mubarak

5f1ea85529739.php

इश्‍क़ मुबारक, मेरठ के करीब एक छोटे से गाँव के रहने वाले और गरीबी में पले-बढ़े मीर की ज़िन्दगी के दास्तान है। बचपन में पिता का निधन और फ‍िर जवानी में माँ का साया उठ जाने के बाद, तमाम पारिवारिक, सामाजिक और आर्थिक समस्‍याओं को पार कर मीर रॉकस्‍टार बनने के सपने को पूरा करता है। इस सफ़र में ज़िन्दगी कई मोड़ लेती है। ये मोड़ पहले तो सुखद अहसास कराते हैं और बाद में ऐसी स्थिति पैदा करते हैं जब वह ख़ुद को शून्‍य पर खड़ा महसूस करता है। इश्‍क़ मुबारक, एक सहज प्रेमकथा होते हुए भी आज के समाज को सीख देने वाला उपन्‍यास है। आज समाज में चाहे या अनचाहे जो कुछ हो रहा है, इश्‍क़ मुबारक उसे उजागर कर एक सबक़ देने का काम करती है। सब कुछ होते हुए भी ‘कुछ और’ पाने का इरादा किस तरह तीन जिंदगियों को बर्बाद करता है… इश्‍क़ मुबारक उपन्यास आपको उसी नतीजे को दिखाएगा।.

4/5 - (1 vote)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *