नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth by Ujjwal Patni Download Hindi PDF

पुस्तक का विवरण (Description of Book of नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth PDF Download) :-

नाम 📖नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth PDF Download
लेखक 🖊️
आकार 3.8 MB
कुल पृष्ठ175
भाषाHindi
श्रेणी
Download Link 📥Working

एक प्रेरक प्रशिक्षक और नेटवर्किंग विशेषज्ञ के रूप में, मैंने कई निदेशकों और अग्रणी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों के शीर्ष नेताओं के साथ बातचीत की। मेरे सेमिनार में 1 मिलियन से अधिक नेटवर्कर्स ने भाग लिया। वर्षों तक कड़ी मेहनत करने के बाद, मैं समझ सका, कि एक व्यक्ति इस प्रणाली में सफल क्यों होता है और दूसरा क्यों विफल होता है? क्यों एक कंपनी बच जाती है और शीर्ष पर पहुंच जाती है जबकि दूसरी कंपनी को दरवाजे बंद करने पड़ते हैं?

अब मुझे विश्वास है कि यह एक आसान कमाई प्रणाली नहीं है, न ही धन प्राप्ति का कोई शॉर्टकट। यह प्रणाली कड़ी मेहनत और भक्ति की मांग करती है। मैं व्यक्तिगत रूप से ऐसा मानता हूं।

पुस्तक का कुछ अंश

नेटवर्क व्यापार
को गंभीरता से नहीं लेते मुझे यह कहने में कोई अफसोस नहीं है कि अधिकांश नेटवर्कर एम.एल.ए. को अपना व्यापार ही नहीं मानते । वो इसे एक टाइम पास मानकर प्रवेश करते हैं, टाइम पास की तरह इस व्यापार को करते हैं और उसी तरह इस व्यापार को छोड़कर निकल जाते हैं। एक छोटी सी पान की गुमटी लगाने वाला, केन्टीन लगाने वाला, या कोई अन्य व्यापार करने वाला भी अपने व्यापार को अधिकांश नेटवर्कर की तुलना में अधिक गंभीरता से लेता नेटवर्कर जब चाहते हैं, तब काम करते हैं, जब चाहते हैं तब काम छोड़कर धर बैठ जाते हैं। कुछ लोगों ने आपत्ति ले ली तो निराश हो जाते हैं । कुछ लोगों ने अपमान कर दिया तो व्यापार छोड़ने का निर्णय कर लेते हैं ।
इसके विपरीत पारंपरिक व्यापार में किसी दिन ग्राहक आए या ना आए, दुकानदार दुकान खोलकर रखता है । ग्राहक माल खरीदे या ना खरीदे, वह ग्राहक से विनम्रता से बात करता है । वह हर जतन करता है जिससे उसकी दुकान चले । पारंपरिक व्यापार में व्यक्ति अपने कार्य को गंभीरता से लेता है और उसके हर पहलू की जिम्मेदारी लेता है ।

हमने नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth PDF Book Free में डाउनलोड करने के लिए लिंक निचे दिया है , जहाँ से आप आसानी से PDF अपने मोबाइल और कंप्यूटर में Save कर सकते है। इस क़िताब का साइज 3.8 MB है और कुल पेजों की संख्या 175 है। इस PDF की भाषा हिंदी है। इस पुस्तक के लेखक   डॉ. उज्जवल पाटनी / Dr. Ujjwal Patni   हैं। यह बिलकुल मुफ्त है और आपको इसे डाउनलोड करने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना होगा। यह किताब PDF में अच्छी quality में है जिससे आपको पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। आशा करते है कि आपको हमारी यह कोशिश पसंद आएगी और आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth को जरूर शेयर करेंगे। धन्यवाद।।
Q. नेटवर्किंग मार्केटिंग : कितना सच, कितना झूठ / Networking Marketing Kitna Sach Kitna Jhuth किताब के लेखक कौन है?
Answer.   डॉ. उज्जवल पाटनी / Dr. Ujjwal Patni  
Download

_____________________________________________________________________________________________
आप इस किताब को 5 Stars में कितने Star देंगे? कृपया नीचे Rating देकर अपनी पसंद/नापसंदगी ज़ाहिर करें।साथ ही कमेंट करके जरूर बताएँ कि आपको यह किताब कैसी लगी?
Buy Book from Amazon
5/5 - (41 votes)

Leave a Comment