रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Download Free PDF

पुस्तक का विवरण (Description of Book) :-

नाम / Name 📥रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan
Author 🖊️
आकार / Size 2.8 MB
कुल पृष्ठ / Pages 📖105
Last UpdatedFebruary 24, 2022
भाषा / Language Hindi
Category
हमने रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Book Free में डाउनलोड करने के लिए लिंक निचे दिया है , जहाँ से आप आसानी से PDF अपने मोबाइल और कंप्यूटर में Save कर सकते है। इस क़िताब का साइज 2.8 MB है और कुल पेजों की संख्या 105 है। इस PDF की भाषा हिंदी है। इस पुस्तक के लेखक   रवींद्रनाथ टैगोर / RAVINDRA NATH TAGORE   हैं। यह बिलकुल मुफ्त है और आपको इसे डाउनलोड करने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना होगा। यह किताब PDF में अच्छी quality में है जिससे आपको पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। आशा करते है कि आपको हमारी यह कोशिश पसंद आएगी और आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan को जरूर शेयर करेंगे। धन्यवाद।।
Q. रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan किताब के लेखक कौन है?
Answer.   रवींद्रनाथ टैगोर / RAVINDRA NATH TAGORE  
Download

_____________________________________________________________________________________________
आप इस किताब को 5 Stars में कितने Star देंगे? कृपया नीचे Rating देकर अपनी पसंद/नापसंदगी ज़ाहिर करें।साथ ही कमेंट करके जरूर बताएँ कि आपको यह किताब कैसी लगी?

पुलिस ने आकर जोरों से तहकीकात करनी शुरू कर दी।

आस-पास के लगभग सभी लोगों के मन में यह बात घर कर गई थी कि चंदा ने ही जिठानी की हत्या की है। सभी गाँववालों के बयानों से ऐसा ही सिद्ध हुआ। पुलिस की ओर से चंदा से जब पूछा गया तो उसने कहा, ‘‘हाँ, मैंने ही खून किया है।

’’ ‘‘क्यों खून किया?’’ ‘‘मुझसे वह डाह रखती थी।’’ ‘‘कोई झगड़ा हुआ था?’’ ‘‘नहीं।’’ ‘‘वह तुम्हें पहले मारने आई थी?’’ ‘‘नहीं।’’ ‘‘तुम पर किसी किस्म का अत्याचार किया था?’’ ‘‘नहीं।’’ इस प्रकार का उत्तर सुनकर सब देखते रह गए। छदामी एकदम घबरा गया। बोला, ‘‘यह ठीक नहीं कह रही है।

पहले बड़ी बहू’’ -इसी पुस्तक से नोबेल पुरस्कार विजेता, विश्‍व-प्रसिद्ध साहित्यकार गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर की कहानियों से चुनी नई श्रेष्‍ठ कहानियों का संग्रह। आशा है, पाठक इन कहानियों के माध्यम से गुरुदेव के कहानीकार रूप का दिग्दर्शन कर सकेंगे।.

अनुक्रम

  • संपादकीय
  • अंतिम प्यार
  • गूँगी
  • प्रेम का मूल्य
  • भिखारिन
  • नई रोशनी
  • काबुलीवाला
  • भाई-भाई
  • कंचन
  • उद्धार
  • धन की भेंट
  • खोया हुआ मोती
  • कंकाल
  • दीदी
  • पत्नी का पत्र
5/5 - (1 vote)

Leave a Comment