ऐसी वैसी औरत / Aisi Waisi Aurat by Ankita Jain Download Free PDF Hindi

अंकिता जैन की लघु कहानियों का संग्रह “कौन थी? तेरी क्या लगती थी? कहाँ की थी? कोई फोटो? कोई पहचान? कहाँ जा सकतीहै? कबसे ग़ायब है?” सवाल पूछने के बाद थानेदार ने अपनी निगाहें मुझ पर टिका दी हैंऔर मैंने अपनी चप्पलों पर। किसी की सवालिया नज़रों से बचने का इससे सरल उपाय मुझेआज तक नहीं सूझा।“अरे टाइम खोटी मत

» Read more