तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal PDF Download Free Hindi Books by Shivendra Suryavanshi (Ring of Atlantis Book 4)

पुस्तक का विवरण (Description of Book of तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal PDF Download) :-

नाम 📖तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal PDF Download
लेखक 🖊️
आकार 5.9 MB
कुल पृष्ठ342
भाषाHindi
श्रेणी, ,
Download Link 📥Working

कल्पना- एक ऐसा शब्द जो अपने अंदर संपूर्ण ब्रह्मांड को समेटे है। इस ब्रह्मांड में लहराता हुआ सागर भी है और सितारों से भरा आकाश भी। इस ब्रह्मांड में प्रकृति के सुंदर रंग भी हैं और समस्त जीवों की असीम भावनाएं भी। तो क्यों ना इस कल्पना की कूची से, अपने जीवन को एक नया रंग देकर देखें। यकीन मानिये, वह अहसास बहुत ही खूबसूरत होगा।

मायाजाल- एक ऐसा शब्द, जो हमारी आँखों के सामने रहस्यों से भरी पहेलियों का एक संसार खड़ा कर देता है। जहां एक ओर गणितीय उलझनें होती हैं, तो वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसी वैचारिक पहेलियां, जिनमें उलझना अधिकांशतः लोगों को पसंद होता है। पर क्या हो? जब ऐसी उलझनों और पहेलियों के मध्य आपका जीवन दाँव पर लगा हो। अर्थात अगर आप इन उलझनों को पार ना कर पायें, तो आप हमेशा-हमेशा के लिये इस मायाजाल में कैद हो जाएं। इस पुस्तक में कुछ मनुष्यों के सामने, कुछ ऐसी ही मुसीबतें खड़ी हैं।

जरा सोचकर देखिये-
1) क्या हो अगर हमें किसी फूल की पहली पंखुड़ी को पहचानना पड़े?
2) क्या हो अगर आप किसी विशाल कछुए की पीठ पर रखे पिंजरे में बंद हो जाएं और वह आपको लेकर समुद्र की गहराई में चला जाए?
3) क्या हो जब आप छोटे होकर चींटियों के संसार में पहुंच जाएं? और चींटियां आप पर आक्रमण कर दें।
4) क्या हो जब स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी जीवित होकर आप पर हमला कर दे?


5) क्या हो जब किसान खेत में बारिश की बाट जोह रहा हो? और आपको देवराज इंद्र की भूमिका निभानी हो।
6) क्या हो जब आपके सामने पृथ्वी की रोटेशन रुक जाये? क्या आप पृथ्वी को गति दे सकते है?
7) क्या हो जब आपका टकराव 4 ऋतुओं से हो जाये?
8) क्या हो जब आप किसी वृक्ष में समाकर, किसी ऐसी दुनिया में पहुंच जाएं? जो स्वप्न से भी परे हो।
9) क्या हो जब आपको पेगासस और ड्रैगन जैसे जीवों का निर्माण करना पड़े?
10) क्या हो जब दूसरी आकाशगंगा के शक्तिशाली जीव आपके सामने खड़े हों? और उन पर आपकी पृथ्वी का कोई नियम ना लागू होता हो?

ऐसे ही अनगिनत सवालो का जवाब है यह पुस्तक। तो आइये इन्हें जानने के लिये पढ़ते हैं, रहस्य, रोमांच, तिलिस्म और साहसिक कार्यों से भरपूर, एक ऐसा हिंदी कथानक, जो विज्ञान के इस युग में भी ईश्वरीय शक्ति का अहसास दिलाता है-

“तिलिस्मा- अविश्वसनीय मायाजाल”

हमने तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal PDF Book Free में डाउनलोड करने के लिए लिंक निचे दिया है , जहाँ से आप आसानी से PDF अपने मोबाइल और कंप्यूटर में Save कर सकते है। इस क़िताब का साइज 5.9 MB है और कुल पेजों की संख्या 342 है। इस PDF की भाषा हिंदी है। इस पुस्तक के लेखक   शिवेन्द्र सूर्यवंशी / Shivendra Suryavanshi   हैं। यह बिलकुल मुफ्त है और आपको इसे डाउनलोड करने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना होगा। यह किताब PDF में अच्छी quality में है जिससे आपको पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। आशा करते है कि आपको हमारी यह कोशिश पसंद आएगी और आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal को जरूर शेयर करेंगे। धन्यवाद।।
Q. तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल / Tilisma Awishwniya Mayajaal किताब के लेखक कौन है?
Answer.   शिवेन्द्र सूर्यवंशी / Shivendra Suryavanshi  
Download

_____________________________________________________________________________________________
आप इस किताब को 5 Stars में कितने Star देंगे? कृपया नीचे Rating देकर अपनी पसंद/नापसंदगी ज़ाहिर करें।साथ ही कमेंट करके जरूर बताएँ कि आपको यह किताब कैसी लगी?
Buy Book from Amazon
5/5 - (53 votes)

Leave a Comment